बोरी में सिक्के लेकर नॉमिनेशन करने पहुँचा उम्मीदवार

Spread the love

कल लोकसभा चुनाव का तीसरा चरण समाप्त हुआ लेकिन नेताओं के बयान बाज़ी और अलग अलग हथकंडे अपनाने का सिलसिला रुकने का नाम नही ले रहा है| दरअसल लोकसभा चुनाव को लेकर बिहार में नामांकन का दौर जारी है| इस कड़ी में प्रत्याशी अलग-अलग अंदाज में नामाकंन दाखिल करने पहुंच रहे हैं| बुधवार (24 अप्रैल) को नालन्दा में कुछ अलग नजारा देखने को मिला जहां एक प्रत्याशी बोरी में सिक्के लेकर नामांकन फॉर्म खरीदने पहुंचा|

सिक्के गिनने में नजारत शाखा के कर्मचारियों के पसीने छूट गए|

जिले के बिहारशरीफ में बसपा प्रत्याशी शशि कुमार ने जमानत की राशि जमा करने के लिए एक, दो और पांच रुपए के सिक्के का जुगाड़ किया| जमानत की राशि के लिए वो 25 हजार रुपये का सिक्का लेकर आए और अधिकारियों के टेबल पर रख दिया| सिक्का जमा करने के पीछे उन्होंने तर्क दिया कि बिहार में छोटे सिक्कों पर अघोषित प्रतिबंध है| जो की एक हद तक पूरी तरह सच है| हम सभी जानते हैं बिहार में गाँव हो या शहर छोटे कारोबारी और दुकानदार छोटे सिक्के लेने से माना करते हैं| यहाँ तक की कभी कभी दस रूपये की सिक्के भी लेने से माना कर देते हैं|

आगे शशि ने बताया कि दुकानदार से लेकर बैंक तक भारतीय मुद्रा को लेने में आनाकानी करते हैं. इससे भारतीय मुद्रा का अपमान होता है| कई जगहों पर एक-एक का सिक्का जमा हो चुका था और आम आदमी काफी परेशान होते दिख रहे थे| इसी कारण उन्होंने लोगों से चंदा करने का काम किया और लोगों ने आशीर्वाद स्वरूप सिक्का प्रदान किया जिसे लेकर वो नामांकन का पर्चा खरीदने पहुंचे|

सबसे खास बात यह रही कि सबसे पहले समाहरणालय के मुख्य गेट पर चार भारी भरकम झोले को देख सुरक्षा कर्मियों ने जब झोले की जांच की तो झोले के भीतर सिक्के देख हैरान रह गए| उसके बाद वो निर्वाचन शाखा पहुंचे| वहां पहुँच कर शशि ने नामांकन का पर्चा भरने के लिए सिक्का निकला, सिक्के मिलने के बाद अधिकारियों के भी पसीने छूट गए| काफी समय की मशक्कत के बाद वो सिक्कों की गिनती को पूरा कर सके| वो भी भारतीय मुद्रा को लेने से इनकार नहीं कर सकते थे, मजबूरन उन्हें यह पैसा लेना पड़ा| सारे सिक्के गिनने में कर्मियों को 2 घंटे से अधिक का समय लग गया |

आपको बता दें कि नालंदा में सोमवार 22 अप्रैल से लोकसभा चुनाव का नामांकन शुरू हो गया है29 को नामांकन की अंतिम तिथि होगी साथ ही 30 अप्रैल को स्क्रूटनी और 2 मई को नाम वापसी की तिथि निर्धारित की गयी है। जबकि19 मई को वोट डाले जाएंगे। चुनाव की सारी तैयारी पूरी कर ली गई है। नामांकन का समय 11 से 3 बजे तक रखा गया है। चुनाव में 15 सौ अधिकारी और करीब 6 हजार जवान लगाए जाएंगे।

डीएम योगेन्द्र सिंह व एसपी नीलेश कुमार ने शनिवार को प्रेस वार्ता में बताया कि शांतिपूर्ण चुनाव की सारी तैयारी पूरी हो चुकी है। मतदानकर्मियों को ईवीएम व वीवीपैट का प्रशिक्षण दिया जा चुका है। इस बार प्रशिक्षण के बाद सभी कर्मियों की परीक्षा भी ली जा रही है। जो कर्मी फेल कर रहे हैं, उन्हें दोबारा प्रशिक्षण दिलाकर परीक्षा ली जा रही है। मतदानकर्मी चाहे जितनी बार भी फेल हों, उससे कोई मतलब। उन्हें पूरी तरह ट्रेंड कर मतदान केन्द्र पर भेजा जाएगा। डीएम ने बताया कि मतदाता जागरूकता अभियान अच्छे से चल रहा है। स्वीप आईकॉन के अलावा अन्य टीमें जिलेभर में घूमकर लोगों को वोट देने के लिए प्ररित कर रही हैं।

Rohit Jha

A writer who is willing to produce a work of art, To note, To pin down, To build up, To make something, To make a great flower out of life even if it’s a cactus.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *