अहमदाबाद, सूरत और दिल्ली जैसे शहरों की तरह जल्दी ही हमारे शहर पटना में भी पाइप द्वारा रसोई गैस की आपूर्ति शुरू होने वाली है| इस सुविधा का लाभ फिलहाल तो सिर्फ कुछ घरों को ही मिल पायेगा| लेकिन सरकार की पूर्व योजना के हिसाब से अगले 5 साल में 50,000 घरों तक एलपीजी आपूर्ति का लक्ष्य था, जिस लक्ष्य को बढाने की अनुशंसा उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी द्वारा की गयी है|

modi

इस क्रम में 19 मार्च तक पटना शहर में 3 सीएनजी स्टेशन और अगले साल तक 4 सीएनजी स्टेशन शुरू किये जाने की योजना है| फुलवारीशरीफ में सीएनजी स्टेशन के लिए सरकार की तरफ से अनुमानित कीमत से कम कीमत पर जमीन देने की पहल हो चुकी है|

LPG Gas Pipe Line

सीएनजी (Compressed Natural Gas) और पीएनजी (Piped Natural Gas) सुविधा और पर्यावरण के हिसाब से उत्तम विकल्प हैं| फिलहाल हमारा राज्य बिहार इस से अछूता था, लेकिन केंद्र की महत्वकांक्षी योजना जगदीशपुर – हल्दिया और बोकारो – धर्मा पाइपलाइन प्रोजेक्ट के अंतर्गत पटना शहर में गैस पाइपलाइन बिछाने का काम पिछले साल से ही द्रुत गति से चल रहा था|

आशा करते हैं जल्दी ही पटना ही नहीं बिहार के सभी 21 प्रस्तावित जिलों में सीएनजी और पीएनजी की आपूर्ति शुरू हो जाएगी और सिर्फ रसोई ही नहीं बल्कि वाहनों में भी हम बिहार वासी गैस का उपयोग करके पर्यावरण की सुरक्षा और पैसे की बचत कर पाएंगे|