कोरोना के कारण आम आदमी का जीना दूभर है | लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है | जो लोग कोरोना की चपेट मे आ चुके हैं वो तो परेशान हैं ही साथ साथ जो अब तक इस से बचे हुए हैं वो भी खासे परेशान हैं | इस बीच कई लोग ऐसे भी हैं जिनके किसी सम्बन्धी को कोरोना हो गया है तथा वो उन्हें लेकर हॉस्पिटल मे बैठे हैं | 

कोरोना के कारण सभी हॉस्पिटल भरे हैं | हॉस्पिटल स्टाफ सीमित | पर मरीजों की संख्या मे लगातार बढ़ोतरी हो रही है | उपर से गर्मी भी इतनी ज्यादा कि मानो आसमान से आग बरस रहे हों | ऐसे मे कई बार मरीज के साथ आये सम्बन्धी गर्मी से निजात पाने के लिये कई तरह के जुगाड़ करते नजर आते हैं | 

गर्मी के कारण अपने ही बने जान के दुश्मन 

ऐसा ही एक जुगाड़ राजस्थान के एक परिवार को भारी पड़ गया | राजस्थान के कोटा मे एमबीएस हॉस्पिटल मे एक शख्स की मौत कोरोना से इसलिए हो गयी क्योंकि उसके सम्बन्धियों ने गर्मी लगने पर वेंटीलेटर का प्लग हटाकर कूलर का प्लग जोड़ दिया | 

कुछ देर बैटरी पर चला वेंटीलेटर 

जब परिजनों ने वेंटीलेटर का प्लग हटाया तो कुछ देर तो वेंटीलेटर बैटरी पर चला पर बैटरी के खत्म होते ही मरीज की हालत नाजुक हो गयी और वह बच नहीं सका | हालाँकि जब मरीज की हालत बिगड़ने लगी तो तुरंत ही डॉक्टर को बुलाया गया | मरीज को तुरंत ही सीपीआर दी गयी पर अफ़सोस उसे बचाया न जा सका | इस बात को लेकर परिजनों और डॉक्टरों मे काफी देर तक बहस भी हुई |

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा मामला 

ये पूरी घटना सोशल मीडिया पर छा गयी है | काफी लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं | कई लोग अखबार के इस खबर वाले हिस्से को काटकर सोशल मीडिया पर ट्वीट कर रहे हैं | 

राजस्थान मे कुछ कोरोना अस्पतालों की हालत बेहद ख़राब है | कहीं कहीं तो साथ आनेवालों के लिये पंखे तथा कूलर का भी इंतजाम नहीं है |