शनिवार २ फ़रवरी को रालोसपा के प्रदर्शन के दौरान पार्टी सुप्रीमो उपेंद्र कुशवाहा पर लाठीचार्ज के खिलाफ विपक्ष ने आज बिहार बंद का आह्वान किया है। उपेंद्र कुशवाहा पर पटना में पुलिस द्वारा की गए लाठीचार्ज के बाद बिहार में राजनीति गर्मा गई है|

police_action_against_Upendra_Kushwaha 660x440, 80.9 KB JPG

राष्‍ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) सुप्रीमो व पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा पर पटना में पुलिस लाठीचार्ज के खिलाफ सोमवार (४ फ़रवरी) को विपक्ष का बिहार बंद है। २ फ़रवरी को रालोसपा द्वारा शिक्षा व्यवस्था में सुधार के खिलाफ आक्रोश मार्च निकाला जा रहा था| आक्रोश मार्च के दौरान, पटना के डाकबंगला चौराहा पर पुलिस के लाठी से उपेंद्र कुशवाहा घायल हो गए थे। उनके सिर और दायें हाथ में चोटें आई हैं| इसके खिलाफ पार्टी ने बिहार बंद का आह्वान किया है। इसे राष्‍अ्रीय जनता दल (राजद), कांग्रेस, हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम), विकासशील इंसान पार्टी (वीआइपी) तथा वाम दलों का समर्थन प्राप्‍त है। लाठीचार्ज में घायल उपेंद्र कुशवाहा का अभी पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्‍पताल (पीएमसीएच) में इलाज चल रहा हैं| घायल होने के कारण वे रविवार को कांग्रेस सुप्रीमो राहुल गांधी की जन आकांछा रैली में शामिल नहीं हो सके थे।

RLSP_chief_Upendra_Kushwaha

बंद को देखते हुए राज्‍य सरकार ने सुरक्षा-व्‍यवस्‍था कड़ी कर दी है ताकि कोई अप्रिय घटना न हो। आज के बंद को लेकर विपक्षी दलों के कार्यकर्ता व समर्थक सुबह से ही सड़कों पर निकल आए हैं। बंद समर्थक जगह-जगह सड़क जाम व आगजनी कर रहे हैं। हालांकि, कहीं से किसी अप्रिय घटना की सूचना अभी नहीं है।

बंद के दौरान किसी अप्रिय घटना के मद्देनज़र व्यापक पुलिस बल तैनात किया गया है|